sponsor banner
sponsor
ads banner
sponsor banner
sponsor
ads banner
होमसमाचारइंग्लिश प्रीमियर लीग न्यूज़जेमी कैराघेर ने कहा कि everton है प्रीमियर लीग कि बेकार क्लब

जेमी कैराघेर ने कहा कि everton है प्रीमियर लीग कि बेकार क्लब

जेमी कैराघेर ने कहा कि everton है प्रीमियर लीग कि बेकार क्लब। जेमी कैराघेर का ऐसा केहना भले ही कुछ लोगो को बुरा लग सकता है पर उनके कहने मे भी एक बात है। अगर कोई टीम परफॉर्म न  करे तो आलोचना होती है पर इस क्लब से लोग भी अब बहुत उत्तेजित हो चुके है। इस टीम ने सिर्फ इस प्रीमियर लीग ही नही बल्कि पिछले कही प्रीमियर लीग से परफॉर्म करना छोड़ दिया है। अभी भी वो पॉइंट्स टेबल के आखरी पायदान पर है। और इस सभी के ज़िम्मेदार वे इनके क्लब के मालिक को दे रहे है।

Everton टीम से है सभी कफह

Everton क्लब हमेशा हमे आश्चर्य करने मे कभी पीछे नही छोड़ता अभी कुछ दिन पहले उन्होंने अपने कोच फ्रैंक लंपार्ड को बाहर का रास्ता दिखा दिया। लंपार्ड के चले जाने के बाद क्लब के मालिक फरहाद मोशिरी अपने क्लब का मुकाबला देखने आए थे, ओक्टोबर् 2021 के बाद और everton वेस्टहम से हार मुह देखना पड़ा।कोई भी फुटबॉल क्लब को अपने समर्थकों से बेहतर नहीं जानता है  कैरागेर ने कहा।

फ्रैंक लैम्पार्ड के खिलाफ कोई बैनर नहीं थे, वे फरहाद मोशिरी और बोर्ड के खिलाफ थे। मैंने कहा है कि एवर्टन देश में सबसे खराब चलने वाला क्लब है। एक समय मे ये क्लब कितना बेहतरीन था, यहाँ के खिलाडी और उनके मेनेजर सभी एकजुट थे। तब मे इस टीम को काफी स्पोर्ट करता था। पर बाद मे जब से फरहाद मोशिरी ने क्लब को लिया तब से कुछ भी सही नही चल रहा है।

पढ़े : Kane ने दिलाई स्पर्स को अहम जीत

मोशिरी नहीं जानते कि वह क्या कर रहे है, लेकिन उनके पास बहुत पैसा है।एक ही तरह के खिलाड़ी लाए जा रहे हैं, मेनजेर बाएं, दाएं और हर तरफ से बदले जा रहे हैं। हर everton मेनजेर विफल क्यों होता है? लैम्पार्ड, बेनिटेज़ और एंसेलोटी, सिल्वा, कोमैन जैसे चैंपियंस लीग विजेता मेनजेर दुनिया भर में रहे हैं। इसलिए जब कोई क्लब विफल होता है तो आपको उपर के लोगो पर देखना होता है। क्यूँकि गड़बड़ वही से हो रहा है।

बड़ी समस्या मोशिरी, बिल केनराइट और डेनिस बैरेट-बैक्सेंडेल के बीच बहुत बड़ी अनमन चल रहा है। शहर में हर कोई इसे जानता है। फुटबॉल क्लब में केनराइट और बैरेट-बैक्सेंडेल की क्या भूमिका है। मालिक उनकी नहीं सुन रहे हैं। वह अपना काम करते जा रहे है। अगर वे वहां विशेषज्ञता के लिए हैं तो उनकी बात नहीं सुनी जा रही है। ऐसे में उनके वहां होने का क्या मतलब है। वेसे कुछ दिन पहले everton के बोर्ड ऑफ डिरेक्टरस् को चेतावनी दी गई थी, कि वो मैच देखने न जाए क्यूँकि वहाँ के समर्थक उनके उपर बहुत गुस्से पर है।

Satish Kumar
Satish Kumarhttps://footballsky.net/
मैं फुटबॉल का प्रशंसक हूं और फुटबॉल के बारे में लिखना पसंद करता हूं। मैंने अपनी पसंदीदा टीमों पर एक ब्लॉग पोस्ट लिखा है,
संबंधित लेख

सबसे लोकप्रिय